सरकार द्वारा  Digital Rupee को दो तरह से लॉन्च करने की योजना बनाई गई थी.

और पहला पायलट प्रोजेक्ट होलसेल ट्रांजैक्शन के लिए 1नवंबर को शुरू किया गया था

अब 1दिसंबर से  दूसरा रिटेल में आम पब्लिक के लिए  लॉन्च होने जा रहा है

RBI ने 1दिसबंर से रिटेल Digital Rupee को  लॉन्च करने का  ऐलान कर दिया है

रिटेल डिजिटल करेंसी के लिए Digital Rupee पहला पायलट प्रोजेक्ट होगा

 CBDC  सभी नागरिक, बिजनेस, सरकार और अन्य के लिए एक लीगल पेमेंट का मीडियम होगा

 RBI की ओर से जारी किए जाने वाले करेंसी नोट का ही CBDC डिजिटल स्वरूप है

 E-Rupee बिना इंटरनेट कनेक्शन के भी काम करेगा और इसको  बैंक मनी और कैश में आसानी से कन्वर्ट कर सकेंगे

 कैश में लेन-देन करने से पहचान गुप्त रहती है, लेकिन डिजिटल ट्रांजैक्शन पर सरकार की नजर रहेगी.

 इसका नुकसान यह है की E-Rupee पर कोई ब्याज भी नहीं मिलेगा.